: Fri, Feb 27, 2015 at 8:20 PM जो केजरीवाल की तरह ज़मीन से जुडेगा ,वही शासन करेगा ! 

  आज भी भारत वर्ष मे रेल गरीब की सवारी है और कम किराये के कारण अन्य अवागमन के साधनो से अधिक प्राथमिकता के कारण सर्व ग्राह्य है! स्वतंत्रता के 67 वर्ष बाद भी प्रजातांत्रिक देश का नागरिक भेड़ बकरी की तरह यात्रा करने के लिये मज़बूर है, कारण यहाँ की बढती हुई आबादी, जो प्रतिवर्ष एक नया आस्ट्रेलिया जोड देती है। फ़िर भी नये रेल बज़ट मे किसी नई ट्रेन का संचालन न करके पुरानी ट्रेनो की हालत सुधारना, 400वाई-फ़ाई स्टेशन बनाना एस्क्लेटर लगा... ...  #Promote the Blog www.punjabscreen.blogspot.com 
Share to Promote this Blog